नेशनल स्टोरी स्लैम किसके लिए है?

यह प्रतियोगिता(स्लैम) उन लोगों के लिए है जो राष्ट्रीय स्तर(नेशनल लेवल) पर लेखकों की कम्युनिटी से जुड़ना चाहते हैं, जो इंडस्ट्री के बेहतरीन लेखकों से लेखन की बारीकियां सीखना चाहते हैं। यह प्रतियोगिता(स्लैम) उन लोगों के लिए है जो सपने देखते हैं और अक्सर अकेले में कागज़ों पर शब्दों की नक्काशी करते पाए जाते हैं। वे लोग जो सच कहना जानते हैं, वे लोग जिनके पास सुनाने के लिए कहानियाँ हैं, यह स्लैम उनके लिए है।

क्या आपके मन में भी कैद हैं बहुत सी कहानियां?

क्या आप भी एक लेखक हैं और कहानियाँ सुनाने की दुनिया में कदम रखना चाहते हैं?

तो फिर ये स्टेज आपके लिए है - आइये और अपनी कहानी बताइए।

गोपनीयता की नीति(प्राइवेसी पॉलिसी)

यह गोपनीयता की नीति(प्राइवेसी पॉलिसी) इस बात की जानकारी देती है कि नेशनल स्टोरी स्लैम के सबमिशन फॉर्म के माध्यम से कम्यून आर्ट्स प्राइवेटेड लिमिटेड(जिसे यहाँ “कम्यून” के रूप में जाना जाएगा) प्रतिभागी के किस तरह के पर्सनल डाटा/जानकारी को एकत्रित(कलेक्ट) करेगा, एकत्रित किये गए डाटा का इस्तेमाल किस तरह से किया जाएगा, यह डाटा किसके साथ साझा(शेयर) किया जाएगा, और यह कि यह डाटा किस तरह से संरक्षित/सुरक्षित रहेगा।

A. यह फॉर्म किस तरह के पर्सनल(निजी) डाटा/जानकारी को एकत्रित करता है?

इस फॉर्म में प्रवेश कर के और इसे पूरा भरकर, यूज़र कम्यून को नीचे दिए गए डाटा(आर्टिस्ट/कलाकार की जानकारी) को एकत्रित करने और इस्तेमाल करने के लिए अपनी सहमति देता/देती है।

1. कलाकार का नाम, उम्र, लिंग, निवास स्थान(लोकेशन), इमेल पता(एड्रेस), फोन नम्बर,

2. नेशनल स्टोरी स्लैम के स्टोरी सबमिशन फॉर्म का वह वर्ज़न जिसका इस्तेमाल कलाकार ने नेशनल स्टोरी स्लैम में हिस्सा(पार्ट) लेने के लिए किया है।

B. हम यह डाटा(जानकारी) एकत्रित क्यों कर रहे हैं?

1. कम्यून को नेशनल स्टोरी स्लैम में सबमिट की गई कहानी को पढने और उसपर विचार करने की अनुमति देने के लिए।

2. कानूनी दायित्वों(लीगल ऑब्लिगेशंस) और कानून प्रवर्तन(लॉ एनफोर्समेंट) के अनुरोधों का पालन करने के लिए और साथ ही कानूनी दावों की स्थापना, उपयोग और उनका बचाव करने के लिए।

3. मार्केटिंग, प्रोमोशनल और एडवरटाईजिंग उद्देश्यों के लिए। वह भी तब जब कलाकार ने इसकी अनुमति दी हो।

4. कम्यून के उन दायित्वों को पूरा करने के लिए जो कि कम्यून और आर्टिस्ट के बीच हुए किसी समझौते से उत्पन्न होते हैं।

5. कलाकार(आर्टिस्ट) की विस्तृत, गैर-विशिष्ट(non-specific) भौगोलिक(जियोग्राफिक) लोकेशन/निवास स्थान को समझने के लिए ताकि कम्यून सामान्य भौगोलिक बाज़ार(जैसे कि शहर, राज्य या देश) के आधार पर आर्टिस्ट ग्रुप्स की पहचान कर सके।

C. संवेदनशील व्यक्तिगत डाटा/जानकारी

कुछ जानकारियां जो कि कलाकार अपनी इच्छा से कम्यून को प्रदान करते हैं, भारतीय कानून के आधार पर “संवेदनशील व्यक्ति डाटा/जानकारी” मानी जा सकती है। अपनी इच्छा से ऐसी जानकारी कम्यून को देते हुए, कलाकार कम्यून को इस जानकारी को एकत्रित करने और इस्तेमाल करने की अनुमति देता/देती है।

D. कलाकारों की जानकारी कम्यून किसके साथ साझा(शेयर) करता है?

इस फॉर्म के माध्यम से एकत्रित किये गए व्यक्तिगत/निजी डाटा/जानकारी को कम्यून अपनी सहायक कम्पनियों और सहयोगियों के साथ साझा(शेयर) कर सकता है।

इस गोपनीयता की नीति(प्राइवेसी पॉलिसी) से सहमत होकर और अपनी जानकारी(आर्टिस्ट इन्फोर्मेशन) को कम्यून के साथ साझा करके, कलाकार ऐसी किसी भी थर्ड पार्टी के साथ अपना संवेदनशील व्यक्तिगत डाटा साझा करने की अनुमति प्रदान करता है।

कृपया ध्यान दें कि ऐसी किसी भी थर्ड पार्टी के साथ साझा किया गया कलाकारों की जानकारी का संग्रह(कलेक्शन) और प्रसंस्करण(प्रोसेसिंग) उस थर्ड पार्टी की शर्तों और नीतियों के अनुसार नियंत्रित होगा। और इसमें कम्यून इंडिया किसी भी तरह से सहायक नहीं होगा।

E. कलाकार(आर्टिस्ट) द्वारा दी गई उसकी निजी जानकारी की सुरक्षा/ उसका संरक्षण कम्यून किस तरह से करता है?

कलाकारों द्वारा प्रदान की गई जानकारी, विशेष रूप से इस जानकारी में निहित(कनटेंड) व्यक्तिगत डाटा को सुरक्षित रखने के लिए कम्यून उपयुक्त संगठनात्मक उपायों(एप्रोप्रिएट ऑर्गनाइज़ेश्नल मेज़र्स) को लागू करता है।

कम्यून के बारे में

बेहतरीन कला और बेहतरीन कलाकरों को प्रमोट करने का काम करने वाला प्लेटफ़ॉर्म कम्यून, भारत के सबसे बड़े परफॉर्मिंग आर्ट्स प्लेटफॉर्म्स में से एक है, और साथ ही देश के सबसे बड़े स्पोकन वर्ड फेस्टिवल्स में से एक “स्पोकन” का रचयता(क्रिएटर) भी है। पिछले 6 सालों में कम्यून ने भारत के 15+ शहरों से आने वाले 5000 से ज़्यादा लेखकों, कवियों और कहानीकारों को एक स्टेज देकर उन्हें प्रमोट करने का काम किया है। कहानियों से शुरू हुआ प्लेटफ़ॉर्म कम्यून आज देशभर में अपनी कहानियों और अपने कहानीकारों के लिए जाना जाता है। हमारा लक्ष्य लोगों को कहानियों की मदद से करीब लाना और उन्हें कहानियों की ताकत से रू ब रू करवाना है।