नियम एवं शर्तें

कम्यून आर्ट्स प्राइवेटेड लिमिटेड (जो अब से कम्यून इंडिया के नाम से पहचाना जाएगा।) द्वारा आयोजित नेशनल स्टोरी स्लैम के नियम एवं शर्तें नीचे दिए गए हैं। नेशनल स्टोरी स्लैम के लिए अपनी कहानी सबमिट करने वाला व्यक्ति, “प्रतिभागी”(पार्टिसिपेंट) के रूप में पहचाना जाएगा।

1. पात्रता/योग्यता

15 वर्ष या उससे अधिक की आयु के भारतीय नागरिक ही नेशनल स्टोरी स्लैम में हिस्सा लेने के लिए पात्र(एलिजिबल) हैं।

2. प्रतिनिधित्व और आश्वासन(रिप्रजेंटेशन और वारंटी)

हर प्रतिभागी को नेशनल स्टोरी स्लैम में एक ही कहानी सबमिट करने की अनुमति है। कहानी के सम्बन्ध में प्रतिभागी नीचे दी गई बातों का प्रतिनिधित्व और आश्वासन प्रदान करता है:

1) प्रतिभागी अपने द्वारा सबमिट की गई कहानी का मालिक और एकमात्र रचनाकार/लेखक है। मतलब सबमिट की गई कहानी प्रतिभागी का मौलिक काम है और इसलिए उसका सबमिशन किसी भी अन्य व्यक्ति/संस्था के बोद्धिक संपदा के अधिकार(इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी राईट), निजता के अधिकार(राईट तो प्राइवेसी) या किसी अन्य अधिकार का उल्लंघन नहीं करता।

2) इस स्लैम में प्रतिभागी की भागीदारी और उसके द्वारा सबमिट की गई कहानी किसी भी अन्य समझौते(अग्रीमेंट), जिसमें प्रतिभागी एक पार्टी(हिस्सेदार) है, के नियम एवं शर्तों का उल्लंघन नहीं करेगी।

3) सबमिट की गई कहानी किसी भी रूप/फॉर्मेट में यूट्यूब, फेसबुक, इन्स्टाग्राम या किसी भी अन्य सोश्यल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपलोडेड नहीं है।

4) प्रतिभागी और प्रतिभागी की कहानी से सम्बंधित कोई भी थ्रीटंड, लम्बित(पेंडिंग) या करेंट दावे(क्लेम्स), कार्य(एक्शन) या मुक़दमे(लॉसूट्स) नहीं हैं। और प्रतिभागी इस बात को स्वीकार करता है कि वह ऐसे किसी भी दावे, कार्य या मुक़दमे की सूचना मिलते ही तुरंत कम्यून इंडिया को सूचित करेगा।

5) प्रतिभागी अपनी इच्छा से अपनी कहानी को गैर-गोपनीय आधार(नॉन कॉन्फिडेंशियल बेसिस) पर सबमिट कर रहा है।

6) जुलाई 1, 2020 तक प्रतिभागी की उम्र 15 साल या उससे ज्यादा है।

7) प्रतिभागी के पास इस समझौते(अग्रीमेंट) में प्रवेश करने का अधिकार और क्षमता है, और वह यह स्वीकार करता है कि वह यहाँ दिए गए नियम एवं शर्तों से बंधा हुआ है और वह इनका पालन करेगा। अगर प्रतिभागी की उम्र 18 वर्ष से कम है, तो उन्हें उनकी ओर से इन शर्तो का प्रतिनिधित्व करने और आश्वासन प्रदान करने के लिए अपने माता-पिता/अभिभावक की ज़रूरत पड़ेगी।

3. प्रतियोगिता में प्रवेश करने की शर्तें और रिलीज़:

इस प्रतियोगिता में प्रवेश करके, प्रतिभागी नीचे दी गई बातों पर अपनी सहमति प्रदान करता है:

1) प्रतिभागी कम्यून इंडिया के इन नियमों और निर्णयों, जो कि इस प्रतियोगिता से जुड़े सभी मामलों में अनिवार्य और अंतिम(फाइनल) हैं, से बाध्य होगा और इनका पालन करेगा/करेगी;

2) प्रतिभागी कम्यून इंडिया और किसी अन्य संगठन जो कि प्रतियोगिता की स्पोंसरिंग, फुल्फिलिंग, प्रबंधन(एडमिनिसट्रेशन), प्रचार(एडवरटाईजिंग) या प्रमोशन के लिए उत्तरदायी(रेस्पोंसिबल) है और उनके सभी रेस्पेक्टिव पूर्व और वर्तमान ऑफिसर्स, डायरेक्टर्स, मेम्बेर्स, एम्पलॉइज़, एजेंट्स और प्रतिनिधि(रीप्रसेंटेटिव्ज़)(जो सब एक साथ “रिलीज्ड पार्टीज़” हैं) को सभी तरह के दावों, खर्चों और उत्तरदायित्वों, जो कि प्रतिभागी के प्रतियोगिता में भाग लेने से उत्पन्न हुए हैं या सम्बंधित हैं, जैसे - किसी भी व्यक्ति या संपदा को पहुँचने वाली कोई भी क्षति, निजता पर आक्रमण, मानहानि, बदनामी, परिवाद, प्रचार के अधिकार का उल्लंघन, ट्रेडमार्क की अवहेलना, कॉपी राइट का उल्लंघन या किसी अन्य बौद्धिक संपदा के अधिकार का उल्लंघन, से मुक्त(रिलीज़) करता/करती है और यह स्वीकार करता/करती है कि वह इनमें से किसी भी कारण के चलते कम्यून इंडिया या इस प्रतियोगिता से सम्बंधित किसी अन्य संगठन पर कोई मुकदमा नहीं कर सकता/सकती। हालाँकि इस बात पर गौर किया जाए कि यह रिलीज़ उस स्थिति में लागू नहीं होगी जहाँ प्रतिभागी की कहानी का किसी भी “रिलीज्ड पार्टी” द्वारा व्यवसायिक शोषण हो, इसे प्रतिभागी के कॉपीराइट के अधिकार का उल्लंघन माना जाएगा।

3) प्रतिभागी के प्रतियोगिता में हिस्सा लेने या प्रतिभागी के प्रतियोगिता से जुड़े इनाम को स्वीकार(एक्सेप्ट) करने, इस्तेमाल करने या गलत इस्तेमाल करने से उत्पन्न होने वाले या सम्बंधित दावों(क्लेम्स), खर्चों(एक्स्पेंसेस), और उत्तरदायित्वों(वकीलों का मानदेय(फीस) सहित) से कम्यून इन्डिया की क्षतिपूर्ती और बचाव करेगा/करेगी।

4) किसी भी थर्ड पार्टी या अन्यथा द्ववारा की गई कहानी की चोरी या गलत इस्तेमाल से कम्यून इंडिया को पहुंची क्षति की क्षतिपूर्ति प्रतिभागी करेगा/करेगी।

4. प्रचार, प्रकाशन और सार्वजनिकता:

सिवाय वहां के जहाँ कानून द्वारा निषिद्ध हो, इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाला/वाली हर प्रतिभागी कम्यून इंडिया और उसके एजेंट्स को इस बात की सहमति देता है कि वे प्रतिभागी का नाम, उसकी पसंद और उसकी तस्वीरों का इस्तेमाल, बिना किसी और विचार और भुगतान के, विश्वभर के किसी भी मीडिया में प्रमोशनल उद्देश्यों के लिए कर सकते हैं।

5. रिलीज़ और वितरण(डिस्ट्रीब्यूशन):

अगर किसी प्रतिभागी की कहानी नेशनल स्टोरी स्लैम के रीजनल राउंड के लिए चयनित(सेलेक्ट) कर ली जाती है तो, प्रतिभागी कम्यून इण्डिया को उस कहानी को अपने यूट्यूब चैनल, इन्स्टाग्राम चैनल, फेसबुक पेज या किसी अन्य सोश्यल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर अपलोड करने का पहला अधिकार देगा/देगी। कहानी का कॉपी राईट प्रतिभागी के पास ही रहेगा लेकिन कहानी के वितरण अधिकार(डिस्ट्रीब्यूशन राइट्स) कम्यून के पास रहेंगे। प्रतिभागी अपनी कहानी को कम्यून इंडिया की पूर्व लिखित अनुमति के बिना यूट्यूब, इन्स्टाग्राम, फेसबुक आदि पर अपलोड नहीं सकेंगे।

6. बौद्धिक संपदा के अधिकार(इंटलेक्चुल प्रॉपर्टी राइट्स) :

1. नेशनल स्टोरी स्लैम के लिए अपनी कहानी सबमिट करने के बाद भी कहानी के कॉपी राइट्स प्रतिभागी के पास ही रहेंगे।

2. प्रतिभागी इस बात को स्वीकार करता है कि कम्यून इण्डिया या इस प्रतियोगिता में शामिल कोई भी निर्णायक(जज) स्वतंत्र रूप से ऐसे अलग(सेपरेट) क्रिएटिव कामों को विकसित(डेवलप) या प्रोड्यूस(निर्माण) कर सकते हैं, जो कि प्रतिभागी द्वारा सबमिट की गई कहानी से मिलते-जुलते हों और वे इन कामों में उन कन्सेप्ट्स, विषयों, फॉर्मेट्स, कथासारों(प्लॉटलाइन्स) और किरदारों को शामिल(इनकॉर्पोरेट) कर सकते हैं जो कि कहानी में दिए गए कन्सेप्ट्स, विषयों, फॉर्मेट्स, कथासारों(प्लॉटलाइन्स) और किरदारों से मिलते-जुलते हों। प्रतिभागी ये भी स्वीकार करता/करती है कि ऐसी स्थिति में वह किसी भी मुआवजे का/की हक़दार नहीं होगा/होगी और उसका उस सेपरेट क्रिएटिव मटेरियल(अलग रचनात्मक सामग्री) पर किसी भी तरह का कोई अधिकार नहीं होगा।

7. सामान्य शर्तें(जनरल कंडीशंस):

1) अगर कोई धोकाधड़ी, तकनीकी विफलता या आयोजक(ऑर्गनाइज़र) के वश से बाहर का कोई अन्य कारण प्रतियोगिता की मर्यादा या उसकी कार्य प्रक्रिया(फ्न्ग्शनिंग) , जिसे आयोजक ने अपने विवेकाधिकार से निर्धारित किया है को भंग करता है तो कम्यून इण्डिया के पास प्रतियोगिता या उसके किसी भी हिस्से को रद्द, निलंबित या संशोधित करने का अधिकार है।

2) कम्यून अपने स्वविवेक से ऐसे किसी भी प्रतिभागी को प्रतियोगिता से बाहर(डिसक्वालिफाई) करने का अधिकार रखता है जिसके ऊपर प्रतियोगिता के संचालन(ऑपरेशन) या उसकी प्रवेश प्रक्रिया से छेड़-छाड़ करने का आरोप हो या फिर वह इस प्रतियोगिता के नियमों का अनुचित या विघटनकारी(डिसरप्टिव) तरीके से उल्लंघन कर रहा/रही हो।

3) कम्यून इंडिया को सबमिट की गई कहानी को अपने किसी भी सोश्यल मीडिया हैंडल पर अपलोड करने की अनुमति देकर प्रतिभागी किसी भी तरह से कम्यून इंडिया या प्रतियोगिता से जुड़ी किसी भी थर्ड पार्टी की ओर से किसी भी इनाम/भुगतान/पारितोषिक(रिवॉर्ड) का हकदार नहीं है।

4) किसी भी व्यक्ति द्वारा नेशनल स्टोरी स्लैम के कानूनी संचालन को जानबूझ कर कमज़ोर करने के लिए किये गए किसी भी प्रयास को सिविल कानून का उल्लंघन माना जा सकता है, और अगर इस तरह का कोई प्रयास होता है तो कम्यून इंडिया के पास ऐसे किसी भी व्यक्ति से नुक्सान वसूलने/मांगने का अधिकार है। इन नियमों में से किसी भी नियम को लागू करने में कम्यून इंडिया की विफलता को उस प्रावधान/नियम की छूट नहीं समझा जाएगा।

8. दायित्व की सीमाएं(लिमिट्स ऑफ़ लायबिलिटी):

a) कम्यून इंडिया नीचे दी गई बातों के लिए उत्तरदायी नहीं है:

(1) कोई भी गलत या त्रुटिपूर्ण जानकारी, चाहे फिर वह किसी प्रतिभागी के माध्यम से आई हो, प्रिंटिंग एरर्स(प्रिंटिंग में गलतियाँ) की वजह से आई हो या प्रतियोगिता में इस्तेमाल किये जा रहे या प्रतियोगिता से जुड़े किसी उपकरण या प्रोग्रामिंग से आई हो।

(2) किसी भी तरह की तकनीकी विफलता(टेक्नीकल फ़ैलयोर)

(3) नेशनल स्टोरी स्लैम की प्रवेश प्रक्रिया और कार्यक्रम(इवेंट्स) के किसी भी हिस्से में अनधिकृत मानव हस्ताक्षेप।

(4) तकनीकी या मानव त्रुटी, जो कि प्रतियोगिता के प्रबंधन(एड्मिनिस्ट्रेशन) या एंट्रीज़ की प्रोसेसिंग में हो सकती है; या

(5) किसी भी व्यक्ति या संपत्ति को पहुंची कोई भी चोट या क्षति जो कि प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से, पूरी तरह से या हिस्सों में, प्रतिभागी के प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की वजह से पहुँच सकती है।

b) प्रतिभागी द्वारा सबमिट की गई कहानी के सम्बन्ध में किये गए किसी भी उल्लंघन या दावे से कम्यून इण्डिया को हुई किसी भी क्षति की क्षतिपूर्ति प्रतिभागी करेगा/करेगी। प्रतिभागी द्वारा अपनी कहानी के सम्बन्ध में छिपाए गए या गलत तरीके से बताए गए किसी भी तथ्य, जहाँ यह एक चुराया हुआ, कॉपी किया हुआ, गैर-मौलिक(अनओरिजिनल) कार्य है का कोई भी दायित्व कम्यून इंडिया पर नहीं होगा।

c) नेशनल स्टोरी स्लैम के सम्बन्ध में या प्रतियोगिता के नियम एवं शर्तों से उत्पन्न होने वाले किसी भी मामलों में, किसी भी प्रतिभागी को किसी भी तरीके से पहुंची शारीरिक चोट, मृत्यु, मानसिक या भावपूर्ण आघात/क्षति के लिए कम्यून इंडिया किसी भी तरह से उत्तरदायी नहीं होगा और इसलिए वह किसी भी ऐसी घटना के लिए उत्तरदायी नहीं ठहराया जाएगा।

कम्यून के बारे में

बेहतरीन कला और बेहतरीन कलाकरों को प्रमोट करने का काम करने वाला प्लेटफ़ॉर्म कम्यून, भारत के सबसे बड़े परफॉर्मिंग आर्ट्स प्लेटफॉर्म्स में से एक है, और साथ ही देश के सबसे बड़े स्पोकन वर्ड फेस्टिवल्स में से एक “स्पोकन” का रचयता(क्रिएटर) भी है। पिछले 6 सालों में कम्यून ने भारत के 15+ शहरों से आने वाले 5000 से ज़्यादा लेखकों, कवियों और कहानीकारों को एक स्टेज देकर उन्हें प्रमोट करने का काम किया है। कहानियों से शुरू हुआ प्लेटफ़ॉर्म कम्यून आज देशभर में अपनी कहानियों और अपने कहानीकारों के लिए जाना जाता है। हमारा लक्ष्य लोगों को कहानियों की मदद से करीब लाना और उन्हें कहानियों की ताकत से रू ब रू करवाना है।